हार्ट अटैक से बचना चाहते हैं? तो सुबह उठकर भूलकर भी न करें ये 3 काम

सर्दियों में Heart Attack हार्ट अटैक के मामले तेजी से बढ़ते हैं। ठंड में हार्ट अटैक से कैसे बचें, कुछ बातों का ध्यान रखें। दिल के दौरे से बचने के लिए आपको हर दिन क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, यह जानना बहुत जरूरी है। चूंकि ठंड के कारण नसें सिकुड़ जाती हैं, इसलिए हृदय को रक्त पंप करने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है। इसलिए सर्दियों में सुबह उठते ही कई बातों का ख्याल रखना जरूरी है।

Heart Attack Avoid Tips

अगर आप Heart Attack Avoid Tips हार्ट अटैक के खतरे को कम करना चाहते हैं तो आपको सुबह उठते ही कुछ बातों का विशेष ध्यान देना होगा। खासतौर पर सर्दियों के मौसम में जब हार्ट अटैक के मामले बढ़ने लगते हैं। ये 3 काम करने से बचें यह आपके दिल के दौरे के खतरे को कम कर सकता है।

ज्यादा पानी न पियें

सर्दी के दिनों में दिल को स्वस्थ रखना सबसे जरूरी है। कुछ लोग सुबह उठकर 1-2 बोतल पानी पी लेते हैं जो दिल के मरीज के लिए अच्छा नहीं है। सुबह के समय आपको ज्यादा तरल पदार्थ नहीं पीना चाहिए। इससे सुबह के समय शरीर ठंडा रहता है।

रक्तचाप और रक्त शर्करा कम हो जाती है। उस स्थिति में, हृदय को रक्त पंप करने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है। यदि आप अधिक तरल पदार्थ पीते हैं, तो हृदय को अधिक काम करना पड़ता है। इसलिए सुबह सिर्फ 1 गिलास पानी पिएं। ठंडा पानी बिल्कुल न पियें। गुनगुना या हल्का गर्म पानी का सेवन करें।

जल्दी उठकर व्यायाम न करें

एक्सरसाइज करना सेहत के लिए बहुत जरूरी है। डॉक्टरों का कहना है कि व्यायाम के लिए सुबह का समय सबसे अच्छा है। लेकिन हृदय या उच्च रक्तचाप के रोगियों को सर्दियों में जल्दी उठने और भारी व्यायाम करने से बचना चाहिए।

इससे हृदय पर दबाव पड़ता है। कुछ लोगों को सुबह 4-5 बजे उठकर व्यायाम करने या ठंड में टहलने की आदत होती है, यह आदत दिल के दौरे के खतरे को बढ़ा सकती है। आप दिन की शुरुआत 7-8 बजे हल्के व्यायाम से करें। जिससे शरीर का खून धीरे-धीरे गर्म होने लगता है।

सुबह जल्दी स्नान न करें

कुछ लोगों को सुबह-सुबह जल्दी नहाने की आदत होती है। अगर आप दिल के मरीज हैं तो आपको सर्दियों में सुबह उठते ही नहाने से बचना चाहिए। सुबह-सुबह ठंडे पानी से नहाना दिल के लिए खतरनाक हो सकता है। अगर आप सुबह नहा रहे हैं तो गर्म पानी से नहाएं। उठने के तुरंत बाद न नहाएं। उठने के लगभग आधे घंटे या एक घंटे बाद ही स्नान करें।

Note: इस लेख में दिखाए गए तरीकों और सुझावों को लागू करने से पहले किसी डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ से परामर्श कर लें।
Previous Post Next Post