1 दिसंबर से गूगल ऐसे जीमेल अकाउंट को कर देगा डिलीट

इस साल की शुरुआत में, Google ने अपनी Inactive Account निष्क्रिय खाता नीतियों में अपडेट की घोषणा की। नई नीति के तहत, Google ने कहा कि वह उन खातों को हटा देगा जिनका कम से कम दो वर्षों से उपयोग या साइन इन नहीं किया गया है। यह निर्णय उपयोगकर्ता सुरक्षा की रक्षा करने और निष्क्रिय खातों को बनाए रखने से जुड़े जोखिमों को कम करने के लिए Google के चल रहे प्रयासों का हिस्सा है।

1 दिसंबर से गूगल ऐसे जीमेल अकाउंट को कर देगा डिलीट



Google 1 दिसंबर से एक बड़ा कदम उठाने जा रहा है। दरअसल, Google दिसंबर से उन Gmail खातों को स्थायी रूप से हटाने जा रहा है जो निष्क्रिय हैं। अगर आपका भी अकाउंट निष्क्रिय है और उसमें आपका डेटा है तो आपको जल्दी से उसका बैकअप ले लेना चाहिए। यदि आप अपने निष्क्रिय खाते का बैकअप नहीं लेते हैं, तो 1 दिसंबर को इस खाते के साथ आपका डेटा भी हटा दिया जाएगा। आइए जानते हैं कि Google Inactive Gmail Account Delete गूगल ऐसे इनएक्टिव अकाउंट्स को क्यों डिलीट करने जा रहा है।

ये Gmail खाते हटा दिए जाएंगे

1 दिसंबर को गूगल उन यूजर्स के अकाउंट डिलीट करने जा रहा है जिन्होंने पिछले 2 साल से जीमेल अकाउंट का इस्तेमाल नहीं किया है। यदि आपने दो साल से कोई मेल नहीं भेजा है या प्राप्त नहीं किया है या अपने खाते में लॉग इन नहीं किया है, तो समझ लें कि आपका जीमेल खाता 1 दिसंबर को हटा दिया जाएगा।

यदि आप इसका उपयोग करते हैं तो डिलीट नहीं होगा

इसे डिलीट होने से बचाने के लिए आपको अपने Google खाते का नियमित रूप से उपयोग करना चाहिए। यदि आप ईमेल भेजते हैं, फ़ोटो या ड्राइव दस्तावेज़ अपलोड करते हैं, या अपने Google खाते में किसी Google सेवा का उपयोग करते हैं तो आपका खाता डिलीट नहीं किया जाएगा।

किसका अकाउंट डिलीट नहीं होगा?

Google की नई नीति से कुछ प्रकार के खातों को बाहर करती है। इसमें स्कूल या पेशेवर दुनिया के Google और Gmail खाते भी शामिल हैं। इसमें जीमेल, ड्राइव, डॉक्स, मीट, कैलेंडर और फोटो शामिल हैं। कंपनी का कहना है कि यूट्यूबर्स और ब्लॉगर्स को इस सूची से बाहर कर दिया गया है।

बचने के लिए आप क्या करेंगे?

अगर आप अपना जीमेल अकाउंट डिलीट नहीं करना चाहते तो तुरंत इसमें लॉगइन करें और मेल करना शुरू करें। अपने अकाउंट का पासवर्ड भी एक बार बदल लें। यदि आप अपने खाते को सक्रिय नहीं रखना चाहते हैं, तो आपको उसमें मौजूद डेटा का बैकअप लेना चाहिए।
Previous Post Next Post