इस उपाय को फ्री में करने से आंखें हो जाएंगी बाज़ जैसी

अगर आंखों से जुड़ी कोई भी समस्या हो जाए तो उसे सहना मुश्किल हो जाता है। इसका असर व्यक्ति पर बहुत ज्यादा पड़ता है, खासकर अगर आंखों की रोशनी कम हो रही हो। अगर समय पर इलाज न किया जाए तो आंखों की यह समस्या बढ़ती ही जाती है। एक समय ऐसा आता है जब व्यक्ति देखना बंद कर देता है। अगर आप भी आंखों से जुड़ी समस्याओं से जूझ रहे हैं तो कुछ आयुर्वेदिक उपाय इन्हें ठीक कर सकते हैं।

इस उपाय को फ्री में करने से आंखें हो जाएंगी बाज़ जैसी



आंखों का स्वास्थ्य अच्छा बनाए रखना भी बहुत महत्वपूर्ण है। आंखों में कोई भी समस्या होने पर व्यक्ति मानसिक रूप से परेशान रहने लगता है। अगर आप अपनी आंखों को मजबूत रखना चाहते हैं तो आयुर्वेदिक उपचार पर भी भरोसा कर सकते हैं।

त्राटक / Trataka


यदि आपकी दृष्टि कमजोर है तो आप त्राटक प्रक्रिया की मदद ले सकते हैं। त्राटक एक प्रकार का ध्यान अभ्यास है जो किसी एक वस्तु जैसे मोमबत्ती या दीपक की लौ पर ध्यान लगाकर किया जाता है। त्राटक न सिर्फ आपका फोकस बेहतर करता है, बल्कि यह आंखों के लिए भी फायदेमंद है।

नेत्र धौति / Eye Wash

नेत्र धौति आंखों के लिए भी बहुत फायदेमंद है। नेत्र धौति एक आयुर्वेदिक आंख सफाई तकनीक है जिसमें आंखें खोलकर उन्हें साफ पानी से धोना शामिल है। यह तकनीक आपकी आंखों से गंदगी को पूरी तरह साफ कर देती है।

नेत्र तर्पण / Eye Tarpan

तर्पण आंखों के लिए भी बहुत फायदेमंद बताया गया है। यह एक प्रकार का आयुर्वेदिक उपचार है जिसमें औषधीय घी को इंसान की आंखों पर लगाया जाता है। नेत्र तर्पण करते समय आंखें खुली रखनी चाहिए। नेत्र तर्पण से आंखों की रोशनी मजबूत होती है।

त्रिफला चूर्ण / Triphala Powder

कहा जाता है कि यह एक आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है, जो आंखों को कई तरह से फायदा पहुंचाती है। अगर आप बेहतर परिणाम चाहते हैं तो त्रिफला चूर्ण को पानी में मिलाकर अपनी आंखों को अच्छी तरह धो लें। आयुर्वेदिक विशेषज्ञों के अनुसार, त्रिफला के पानी से आंखें धोने से आपकी आंखों की रोशनी मजबूत होगी। इससे आंखों पर तनाव भी कम होगा।
Previous Post Next Post