RBI ने गुजरात के दो बैंकों समेत इन पांच बैंकों पर 50 लाख से ज्यादा का जुर्माना लगाया

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने अब नियामक अनुपालन का उल्लंघन करने पर चार बैंकों के खिलाफ कार्रवाई की है। मालूम हो कि इन चारो बैंकों पर नियमों के खिलाफ लोन देने, ग्राहक सेवा नियमों का पालन न करने और KYC नियमों का पालन न करने पर 80 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

RBI ने गुजरात के दो बैंकों समेत इन पांच बैंकों पर 50 लाख से ज्यादा का जुर्माना लगाया



भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई बैंकों के कामकाज पर नजर रखता है और नियमों का उल्लंघन करते पाए जाने पर बैंकों के खिलाफ कार्रवाई भी करता है। कल सेंट्रल बैंक ने चार सहकारी बैंकों पर लाखों का जुर्माना लगाया। आरबीआई ने अपने ही नियमों की अनदेखी के चलते यह कदम उठाया है। जिन सहकारी बैंकों पर मुकदमा दायर किया गया है उनमें NKGSB सहकारी बैंक, मुंबई स्थित न्यू इंडिया सहकारी बैंक, गुजरात स्थित मेहसाणा नागरिक सहकारी बैंक और गुजरात की पाटड़ी नागरिक सहकारी बैंक लिमिटेड शामिल हैं।

NKGSB को-ऑपरेटिव बैंक पर 50 लाख रुपये का जुर्माना लगाया

रिजर्व बैंक ने NKGSB को-ऑपरेटिव बैंक पर 50 लाख रुपये का भारी जुर्माना लगाया है। मामले की जानकारी देते हुए आरबीआई ने कहा कि बैंक ने चालू खाता खोलते समय और ग्राहकों को खाते में लेनदेन की अनुमति देते समय आरबीआई के नियमों का पालन नहीं किया। इसकी जांच के बाद, आरबीआई ने बैंक को कारण बताओ नोटिस जारी किया, और बैंक द्वारा दिए गए स्पष्टीकरण से संतुष्ट नहीं होने पर NKGSB सहकारी बैंक पर 50 लाख रुपये का पूर्ण मौद्रिक जुर्माना लगाया।

इसी वजह से दूसरे बैंकों पर जुर्माना लगाया गया है

भारतीय रिजर्व बैंक ने मुंबई के न्यू इंडिया को-ऑपरेटिव बैंक पर भी 15 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। दान में दिए गए पैसों में आरबीआई द्वारा बनाए गये नियमों का पालन नहीं करने पर बैंक के खिलाफ कार्रवाई की गई है। आरबीआई की जांच में पता चला कि बैंक ने वित्तीय वर्ष 2020-21 का मुनाफा दान करते समय आरबीआई के नियमों का ठीक तरीके से पालन नहीं किया।

इसके अलावा आरबीआई ने लोन और एडवांस देने में नियमों का उल्लंघन करने पर गुजरात के मेहसाणा को-ऑपरेटिव बैंक पर 7 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। अन्य नियमों की अनदेखी के चलते द पाटडी नागरिक सहकारी बैंक लिमिटेड और मेहसाणा नागरिक सहकारी बैंक लिमिटेड के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

इसका उपभोक्ताओं पर कितना असर होगा?

आरबीआई द्वारा इन चार बैंकों पर लगाए गए आर्थिक जुर्माने का बैंक ग्राहकों पर कोई असर नहीं पड़ेगा। यह जुर्माना बैंकों के कामकाज पर लगाया गया है और इससे उनकी सेवा पर भी किसी तरह का असर नहीं पड़ेगा। बैंक सामान्य रूप से काम करता रहेगा।
Previous Post Next Post