क्या आप भी सैमसंग का मोबाइल इस्तेमाल करते हैं? सरकार ने किया अलर्ट

Samsung Smartphone सैमसंग स्मार्टफोन इस्तेमाल करने वाले लाखों लोगों के लिए सरकार की ओर से अलर्ट आया है। भारत में सैमसंग स्मार्टफोन इस्तेमाल करने वाले यूजर्स के लिए सरकार ने चेतावनी जारी की है। ऐसे यूजर्स को अपने स्मार्टफोन को तुरंत अपडेट करने के लिए कहा गया है।

क्या आप भी सैमसंग का मोबाइल इस्तेमाल करते हैं? सरकार ने किया अलर्ट



CERT-In ने सैमसंग यूजर्स के लिए हाई रिस्क की चेतावनी जारी की है। CERT-In का मतलब कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम ऑफ इंडिया है जो इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत काम करती है। इसका काम लोगों को इंटरनेट से जुड़े सुरक्षा जोखिमों के बारे में सचेत करना है।

किसके लिए चेतावनी जारी की गई?

भारत की कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम यानी CERT-In ने सुरक्षा जोखिमों का हवाला देते हुए सैमसंग यूजर्स से अपने स्मार्टफोन को अपडेट करने के लिए कहा है। यह अलर्ट सैमसंग स्मार्टफोन के उन यूजर्स के लिए है, जिनके फोन फिलहाल एंड्रॉइड 11, 12, 13 या 14 वर्जन पर चल रहे हैं। एजेंसी का कहना है कि एंड्रॉइड 11, 12, 13, 14 पर चलने वाले सैमसंग फोन में कुछ समस्याएं हैं जो हैकर्स को आपके फोन में सेंध लगाने की अनुमति दे सकती हैं।

क्यों सतर्क किया गया?

अगर आप भी सैमसंग मोबाइल यूजर हैं तो आपको भी कुछ बातों का ध्यान रखना होगा। ये खामियां हैकर्स के लिए आपके फोन की सुरक्षा को दरकिनार करना आसान बना देती हैं। साथ ही फोन में मौजूद संवेदनशील जानकारी तक आसानी से पहुंचा जा सकेगा। ये कमजोरियाँ अलग-अलग होती हैं और सैमसंग पारिस्थितिकी तंत्र के विभिन्न घटकों को प्रभावित करती हैं।

सरकारी चेतावनियों को हल्के में न लें

CERT-In द्वारा जारी किया गया अलर्ट उच्च जोखिम चेतावनी श्रेणी का है। इसका मतलब है कि अगर आप भी एंड्रॉइड वर्जन 11 से 14 पर सैमसंग स्मार्टफोन चला रहे हैं तो आपको इस चेतावनी को बिल्कुल भी हल्के में नहीं लेना चाहिए। ऐसे सभी यूजर्स को सरकार की चेतावनी पर तुरंत एक्शन लेना चाहिए और अपने स्मार्टफोन को अपडेट करना चाहिए। अन्यथा आपके स्मार्टफोन से संवेदनशील जानकारी चोरी हो सकती है।

हमलावर ये काम कर सकता है

चेतावनी के अनुसार, प्रासंगिक एंड्रॉइड वर्जन वाले स्मार्टफोन में पाई गई खामियां हमलावरों को सुरक्षा प्रतिबंधों को बायपास करने और संवेदनशील जानकारी चुराने की अनुमति दे सकती हैं। लक्ष्य प्रणाली पर मनमाना कोड भी निष्पादित कर सकता है। इससे नॉक्स फीचर का एक्सेस कंट्रोल, फेशियल रिकग्निशन सॉफ्टवेयर, एआर इमोजी ऐप में ऑथराइजेशन इश्यू, मेमोरी करप्शन समेत कई गंभीर समस्याएं हो सकती हैं।

क्या खामियां पकड़ी गईं?

सीईआरटी-इन के अनुसार, सैमसंग फोन में नॉक्स सुरक्षा सुविधाओं तक गलत पहुंच, चेहरे की पहचान सॉफ्टवेयर में खामियां, एआर इमोजी ऐप में खामियां, कई मेमोरी भ्रष्टाचार कमजोरियां और कई अन्य खामियां पाई गई हैं।

आप कैसे बच सकते हैं?

इस जोखिम से बचने के लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा। सबसे पहले आपको नवीनतम सुरक्षा अद्यतन स्थापित करना होगा। इसके लिए आपको सेटिंग्स में जाना होगा जहां आपको सॉफ्टवेयर अपडेट का विकल्प मिलेगा। इस पर क्लिक करने के बाद आपको डाउनलोड एंड इंस्टॉल पर क्लिक करना होगा। इस तरह आपका काम बन जायेगा। यदि आपने नवीनतम सुरक्षा अद्यतन स्थापित नहीं किया है तो आपको सावधान रहना होगा। खासतौर पर तब जब आप कोई अनजान ऐप इंस्टॉल कर रहे हों।

यह स्मार्टफ़ोन ख़तरे में है

CERT-In के अनुसार, यदि कोई हमलावर किसी डिवाइस को निशाना बनाता है, तो वह सिम पिन तक पहुंच सकता है, प्रसारण भेज सकता है, AR इमोजी के सैंडबॉक्स डेटा को पढ़ सकता है, सिस्टम समय बदल सकता है और नॉक्स गार्ड लॉक को बायपास कर सकता है। हाँ, मनमानी फ़ाइलों तक पहुँच सकते हैं। इस भेद्यता से प्रभावित स्मार्टफ़ोन में Samsung Galaxy S23 सीरीज़, Samsung Galaxy Z Flip5, Samsung Galaxy Z Fold 5 आदि शामिल हैं। इससे तुरंत अपडेट करे।
Previous Post Next Post