कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में देश के आम लोगों की मदद करने के लिए केंद्र सरकार ने 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज के साथ आत्मनिर्भर भारत अभियान की घोषणा की गई है। आत्मनिर्भर गुजरात
आत्मनिर्भर गुजरात के सभी छोटे व्यवसायियों की मदद करने के उद्देश्य से गुजरात आत्मनिर्भर योजना की घोषणा की गई थी।


इस योजना उदेश केवल छोटे वेपारी को सहायता करना है

क्या हर barcode 890 वाली प्रोडक्ट भारत में बनी है ? जाने पूरा सच


आत्मनिर्भर गुजरात

राज्य में छोटे व्यवसायों, दुकानदारों, फेरीवालों, रिक्शा चालकों और अन्य कारीगरों के फिरसे अपने ब्यापार को चालु करने के लिए घोषित की गई इस आत्मनिर्भर गुजरात सहाय योजना के लिए आवेदन पत्र 21 मई से जारी किया जाएगा।

इस तरह के आवेदन पत्र जिला सहकारी बैंकों की लगभग 1000 शाखाओं,

1400 शहरी सहकारी बैंकों और राज्य भर में 7000 से अधिक क्रेडिट सहकारी समितियों से प्राप्त किए जा सकते हैं।

आत्मनिर्भर गुजरात महत्वाकांक्षी योजना का लाभ उठाने के लिए, केवल आवेदन पत्र भरें।

31 अगस्त तक वापस करना होगा। इस उद्देश्य के लिए कोई अन्य शुल्क या शुल्क नहीं लिया जाना चाहिए।

योजना के तहत, लगभग 10 लाख लघु व्यवसाय, कारीगर-रोजगार प्राप्त व्यक्तियों को रु।
1 लाख रुपये तक का loan केवल 2 प्रतिशत की ब्याज दर पर दिया जाएगा।

Read News : सरकार ने रद्द किए 3 करोड़ राशन कार्ड, आपका तो रद्द नहीं हुआ देखे

यह Loan बिना किसी गारंटी के दिया जाएगा। साथ ही केवल 2 प्रतिशत की ब्याज दर पर। इतना ही नहीं,
लोन के पहले 6 महीने तक कोई किस्त नहीं ली जाएगी।

राज्य सरकार शेष 6 प्रतिशत ब्याज का भुगतान खुद करेगी और छोटे व्यवसाय मालिकों,
हेयरड्रेसर, लॉन्ड्रेसिस, प्लंबर, छोटे किराना दुकानों, फेरीवालों, रिक्शा चालकों, आदि
को सिर्फ 2% ब्याज दर पर लोन उपलब्ध कराएंगी राज्य सरकार साथ ही में 6 माह तक कोई EMI नहीं भरना होगा

आत्मनिर्भर गुजरात: 1 लाख का ऋण, केवल 2% की दर से, 6 महीने के बाद किस्त

📢 योजना 21/05/2020 से शुरू होगी।
📢 फॉर्म भरने की आखिरी तारीख 31/28/2020 होगी।
📢 योजना के फार्म निकटतम सहकारी बैंकों और कोऑपरेटिव क्रेडिट सोसाइटी से नि: शुल्क प्राप्त किए जा सकते हैं।
📢 आपको 2% की वार्षिक ब्याज दर पर अधिकतम 1 लाख रुपये का loan मिलेगा,
जिसे तीन वर्षों में 30 समान EMI में चुकाना होगा।

Wife के साथ सबसे ज्यादा चैट कौन करता है? अभी चेक करे


📢 लोन मंजूर होने के बाद 6 महीने तक कोई मूलधन और ब्याज की किस्तें नहीं चुकानी होती हैं,
लेकिन फिर 30 समान EMI में लोन चुकाना पड़ता है।
📢 राज्य सरकार को इस loan के लिए stamp फ़ीस का भुगतान नहीं करना होगा
📢 लोन उसी व्यापार के लिए 01/01/2020 से उपलब्ध है।


Gujarat News :- Click Here